विकीलीक्स के संस्थापक कि गिरफ्तार के बाद हुआ चार करोड़ साइबर हमला

विकीलीक्स के संस्थापक कि गिरफ्तार के बाद हुआ चार करोड़ साइबर हमला

इक्वाडोर ने सोमवार को कहा कि विकीलीक्स के संस्थापक जूलियन असांजे की शरण वापस लेने के बाद उसकी सार्वजनिक संस्थाओं के वेबपेजों पर चार करोड़ साइबर हमले हो चुके हैं। इक्वाडोर के सूचना एवं संचार तकनीक उप-मंत्री पैट्रिसियो रील ने कहा कि ये हमले बृहस्पतिवार से शुरू हुए और ‘अधिकांश हमले अमेरिका, ब्राजील, हॉलैंड, जर्मनी, रोमानिया, फ्रांस, ऑस्ट्रिया और ब्रिटेन’ से किए गए हैं। इसके अलावा दक्षिणी अमेरिकी देशों से भी हमले हुए हैं।

टेलीकम्युनिकेशन मंत्रालय के इलेक्ट्रॉनिक सरकारी विभाग के सचिव जेवियर जारा ने बताया कि देश में व्यापक स्तर पर साइबर हमले हुए जिसके बाद उन्हें इंटरनेट बंद करना पड़ा। उनका कहना है कि ये हमले जूलियन असांजे से जुड़े हुए समूहों का कारनामा है। इन साइबर हमलों में सबसे ज्यादा प्रभावित सेंट्रल बैंक, राष्ट्रपति कार्यालय, इंटरनेट राजस्व सेवा और कई मंत्रालय और विश्वविद्यालय हुए हैं।

असांजे को इक्वाडोर के लंदन स्थित दूतावास से बृहस्पतिवार को गिरफ्तार किया गया क्योंकि इक्वाडोर के राष्ट्रपति लेनीन मोरेनो ने सात साल के बाद असांजे से अपनी राजनयिक सुरक्षा खत्म कर दी। मोरेनो ने असांजे पर ‘दूसरे देशों के मामले में दखल’ देने और जासूसी करने का आरोप लगाया और शरण देने से इनकार कर दिया। वहीं इक्वाडोर ने 2017 में असांजे को दी गई नागरिकता भी समाप्त कर दी।

आपको बता दें कि अंसाजे विकिलीक्स पर काम करने से पहले वे एक कंप्यूटर प्रोग्रामर और हैकर थे। पेशे से पत्रकार हैं। अंसाजे विकिलीक्स के जरिए सरकारी व धार्मिक खुफिया दस्तावेजों को प्रकाशित करता है।

About The Author

Originally published on www.bhaskar.com

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *