ऑस्ट्रेलिया सरकार ने कोरोना के बीच 25% दर्शकों को स्टेडियम में आने की मंजूरी दी, अक्टूबर में टी-20 वर्ल्ड कप की उम्मीद बढ़ी



ऑस्ट्रेलिया में इस साल अक्टूबर-नवंबरमें टी-20 वर्ल्ड कप होने की उम्मीदें बढ़ गईं हैं। शुक्रवार को प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन ने देश में खेलों की वापसी को लेकर अहम घोषणा की। उन्होंने कहा कि अगले महीने से दर्शकों को स्टेडियम में आने की इजाजत होगी। हालांकि शुरुआती फेज में 25% दर्शक ही स्टेडियम आ सकेंगे।

उन्होंने कैबिनेट बैठक के बाद जानकारी दी कि यह बदलाव खेल प्रतियोगिताओं, फेस्टिवल और कॉन्सर्ट पर लागू होंगे। जिस स्टेडियम की दर्शक क्षमता 40 हजार है, वहां शुरुआत में 10 हजार दर्शक (25%) ही आ सकेंगे।

स्वास्थ्य अधिकारी गाइडलाइन बना रहे: मॉरिसन

मॉरिसन ने आगे कहा कि इसके लिये बड़ा और खुला स्थान होना चाहिए। इसमें सीटें भी उचित दूरी पर होनी चाहिए। इसमें टिकट देने की जरूरत होगी ताकि लोग समझ सकें कि कितने लोग उस कार्यक्रम में आ सकते हैं। उन्होंने कहा कि मुख्य स्वास्थ्य अधिकारियों की मदद से सार्वजनिक स्थलों के लिए नियम बनाए जा रहे हैं।

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया कोराहत
क्रिकेट ऑस्ट्रेलिय़ा और आईसीसी के लिए यह राहत भरी खबर है क्योंकि अब वह तय शेड्यूल के मुताबिक अक्टूबर-नवंबरमें टूर्नामेंट करा सकते हैं। बिना दर्शकों के कोई भी पक्ष टी-20 वर्ल्ड कप कराने को लेकर तैयार नहीं था क्योंकि इससे रेवेन्यू का नुकसान तो होना ही था खिलाड़ी भी इस तरह से खेलने को लेकर बहुत उत्साहित नहीं थे।

ऐसे में सीमित संख्या में ही सही, दर्शकों को स्टेडियम में आने की अनुमति मिलने के बाद काफी हद तक यह मुश्किल दूर हो गई है। इससे पहले ऑस्ट्रेलिया सरकार ने मार्च में कोरोना के खतरे को देखते हुए अगले 6 महीने तक देश की सीमाएं सील करने का ऐलान किया था। इसके बादटी-20 वर्ल्ड कप टलने की आशंका जताई जाने लगी थी।

आईपीएल के लिए नई विंडो तलाशनी होगी
आईपीएल के लिए यह खबर अच्छी नहीं है, क्योंकि बीसीसीआई अक्टूबर-नवंबर की विंडो में ही आईपीएल कराने पर विचार कर रहा है। हालांकि, यह तभी संभव होगा जब ऑस्ट्रेलिया टी-20 वर्ल्ड कप को टालने के लिए तैयार हो जाता है। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया भी लगातार टूर्नामेंट के आयोजन पर संदेह जता रहा है, लेकिन अब सरकार ने दर्शकों को स्टेडियम में आने की अनुमति देकर वर्ल्ड कप के होने की उम्मीदें बढ़ा दी हैं।

ऐसे में अक्टूबर-नवंबर में आईपीएल होने की संभावना बहुत कम है। यदि आईपीएल रद्द होता हैतो बीसीसीआई को4 हजार करोड़ रुपए का नुकसान हो सकता है।

बीसीसीआई को लीग के लिए नई विंडो तलाशनी होगी
अब बीसीसीआई को आईपीएल के लिए नई विंडो भी तलाशनी होगी। इस साल टी-20 वर्ल्ड कप 18 अक्टूबर से 15 नवंबर तक होना है। इसके ठीक बाद दिसंबर में टीम इंडिया को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 4 मैचों की टेस्ट सीरीज खेलनी है।

एशिया कप रद्द होने पर सितंबर में भीआईपीएल संभव

सितंबर में होने वाले एशिया कप के टलने की स्थिति में भीआईपीएल होने की संभावना है। इस बार पाकिस्तान की मेजबानी में एशिया कप होना है।इस विंडो में भी लीग कराना इसलिए आसान नहीं है, क्योंकि पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड कई बार कह चुका है कि वह आईपीएल के लिए एशिया कप नहीं टालेगा। इसके अलावा उस समय भारत में मानसून सीजन होता है। ऐसे में बारिश भी बाधा बन सकती है।

खाली स्टेडियम में आईपीएल हो सकता है : गांगुली

एक दिन पहले ही बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने कहा था कि आईपीएल बिना दर्शकों के भी हो सकताहै। गांगुली ने कहा था, ‘‘हाल ही में कई भारतीय और विदेशी खिलाड़ियों ने आईपीएल में खेलने की इच्छा जताई है। फैन्स, फ्रेंचाइजी, खिलाड़ियों, ब्रॉडकास्टर, स्पॉन्सर्स और सभी स्टैकहोल्डर्स को उम्मीद है कि इस साल आईपीएल जरूर होगा। आईपीएल के भविष्य को लेकर बीसीसीआई जल्द ही फैसला करेगा।’’

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन ने 24 अक्टूबर 2019 को एक मैच के दौरान मैदान पर ड्रिंक्स ले जाकर सबको चौंका दिया था। यह प्रैक्टिस मैच श्रीलंका और ऑस्ट्रेलिया इलेवन के बीच खेला गया था।

About The Author

Originally published on www.bhaskar.com

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *