Responsive 2
Breaking News

दिल्ली हिंसा मामले में कपिल मिश्रा पर गंभीर आरोप-दूसरे दिन भी रहा तनाव!

Delhi Violence,CAA,serious charges,Kapil Mishra,violence case,against,CAA,stress,second,day,too,delhi police,head constable,death,ratanlal,dcp,amit sharma,injured,max hospital,hate speech,
kapil mishra delhi voilence

CAA पर भड़की हिंसा में मरने वालों की बढ़ी तादाद
कपिल मिश्रा पर भड़काऊ भाषण का आरोप

नई दिल्ली (25 फरवरी 2020)- CAA सिटीज़नशिप अमेंडमेट बिल पर भड़की हिंसा से दिल्ली की शांति को नज़र लग गई है। रविवार को शुरु हुए हंगामे के बाद सोमवार को भड़की हिंसा का असर दूसरे दिन भी दिखा है। हांलाकि केंद्र सरकार ने हालात पर क़ाबू करने के लिए पूरी ताक़त झोंक दी है। दिल्ली पुलिस के अलावा अर्धसैनिक बलों की कई टुकड़ियां तैनात कर दी गईं हैं।
उधर पूरे मामले पर आम आदमी छोड़कर भाजपा में आए कपिल मिश्रा पर हिंसा भड़काने के आरोप लग रहे हैं। दिल्ली ने कपिल के ख़िलाफ मामला दर्ज कर लिया है।
जबकि दिल्ली में हिंसा मामले में भारतीय जनता पार्टी के ही सासंद और पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर ने कपिल मिश्रा पर कार्रवाई करने की मांग कर डाली है। गौतम गंभीर का कहना है कि इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता कि हिंसा भड़काने वाला चाहे कपिल मिश्रा हो या कोई और, या उसका ताल्लुक किसी भी पार्टी से हो,उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई होनी चाहिए। पूर्वी दिल्ली के सांसद गौतम गंभीर मंगलवार को भजनपुरा-मौजपुर में हुई हिंसक वारदात में घायल डीसीपी अमित शर्मा का हालचाल पूछने के लिए पटपड़गंज मैक्स हॉस्पिटल पहुंचे थे। जाफराबाद हिंसा में डीसीपी अमित शर्मा गंभीर रूप से घायल हो गए थे, जिसके बाद सोमवार देर रात उनको मैक्स अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जानकारी के मुताबिक़ अमित शर्मा की हालत गंभीर बनी हुई है। दो दिन से दिल्ली में हो रही हिंसक घटनाओं के बारे में बीजेपी सांसद गौतम गंभीर का मानना है कि नार्थ ईस्ट इलाके में जो भी लोग हिंसा में शामिल हैं, चाहे वो कांग्रेस, आम आदमी पार्टी से लेकर किसी भी पार्टी में हों,उसके खिलाफ मुकदमा किया होगा।
दिल्ली हिंसा के दौरान सबसे बड़े विलेन के तौर सामने आए कपिल मिश्रा पर कई गंभीर आरोप लग रहे हैं। उन पर आरोप है 22 जनवरी को कपिल मिश्रा ने धमकी दी थी कि दिल्ली पुलिस तीन दिन के अंदर रास्तों को खाली कराए। लेकिन अगर तीन दिन में रास्ते खाली नहीं हुए, तो हम फिर सड़कों पर उतरेंगे। कपिल मिश्रा ने कथित तौर पर कहा था कि इसके बाद हम दिल्ली पुलिस की नहीं सुनेंगे। कहा जा रहा है कि कपिल मिश्रा के बयान के बाद हिंसा भड़क उठी थी।
हिसंक वारदातों को देखते हुए पूरे उत्तर पूर्वी जिले में 1 महीने के लिए धारा 144 लगा दी गई है। हिंसा की चपेट में आने से 9 लोगों की मौत और सैंकड़ो के घायल होने की ख़बर है। जिसमें दिल्ली पुलिस के हेड कॉन्स्टेबल रतन लाल भी शामिल हैं।

Post source : azad khalid

About The Author

आज़ाद ख़ालिद टीवी जर्नलिस्ट हैं, सहारा समय, इंडिया टीवी, वॉयस ऑफ इंडिया, इंडिया न्यूज़ सहित कई नेश्नल न्यूज़ चैनलों में महत्वपूर्ण पदों पर कार्य कर चुके हैं। Read more

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by Dragonballsuper Youtube Download animeshow