नेपाल के सैनिकों ने बिहार बॉर्डर पर खेत में काम कर रहे लोगों पर फायरिंग की, 1 की मौत; एसएसबी ने कहा- यह आपसी विवाद का मामला



भारत और नेपाल के बीच जारी सीमा विवाद के बीच शुक्रवार कोअहम खबर सामने आई। नेपाल की तरफ से बिहार के जानकीनगर बॉर्डर पर फायरिंग हुई। इसमें एक युवक की मौत हो गई। तीन घायल हुए। दो लोगों की हालत गंभीर बताई गई है।जानकीनगर बिहार के सीतामढ़ी जिले में आता है। यहां भारत का सशस्त्र सीमा बल (एसएसबी) तैनात है। इसके डीजी कुमार राजेश चंद्रा ने कहा- यह आपसी विवाद का मामला है। रिपोर्ट केंद्रीय गृह मंत्रालय को भेज दी है।

खेत में काम कर रहे थे लोग

जानकारी के मुताबिर, घटनासीतामढ़ी के सोनबरसा बॉर्डर इलाके के जानकीनगर गांव की है। यहां सीमा के पासकुछ लोग खेत में काम रहे थे। इसी दौरान नेपाल की ओर से फायरिंग की गई। फायरिंग में जानकीनगर टोले लालबन्दी निवासी 25 साल के विकेश कुमार राय की मौत हो गई। तीन लोग घायल हैं। दो की हालत गंभीर है। सभी कोसीतामढ़ी के अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

एसएसबी ने क्या कहा?

घटना के बाद एसएसबी के डीजी कुमार राजेश चंद्रा ने न्यूज एजेंसी से कहा, “नेपाल के सैनिकों ने करीब 15 राउंड फायर किए। इनमें से 10 राउंड हवा में फायर किए गए। एक व्यक्ति की मौत हुई। तीन घायल हैं। नेपाल के सुरक्षाकर्मियों ने एक व्यक्ति को हिरासत में लिया है। हम उसकी रिहाई के लिए बातचीत कर रहे हैं। हम नहीं चाहते कि बात ज्यादा बढ़े।”

रिपोर्ट गृह मंत्रालय को भेजी
डीजी ने आगे कहा,“हमने शुरुआती जांच के बाद एक रिपोर्ट केंद्रीय गृह मंत्रालय को भेज दी है। एसएसबी की 51वीं बटालियन के कमांडेंट ने नेपाल के सारलाही और भारत के सीतामढ़ी जिले के एसपी से बातचीत की है। दोनों एसपी भी संपर्क में हैं। इस मामले की जांच की जाएगी। मैं फिर साफ कर देना चाहता हूं कि यह पूरी तरह स्थानीय मामला है, जो अचानक हुआ।”

भारत और नेपाल में सीमा विवाद चल रहा
भारत और नेपाल में सीमा विवाद के कारण रिश्ते तनावपूर्ण हैं। आठ मई को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने लिपूलेख से धाराचूला तक बनाई गई सड़क का उद्घाटन किया था। इसके बाद नेपाल ने लिपूलेख को अपना हिस्सा बताते हुए विरोध किया था। 18 मई को नेपाल ने नया नक्शा जारी किया। इसमें भारत के तीन इलाके लिपूलेख, लिम्पियाधुरा और कालापानी को अपना हिस्सा बताया।

नेपाल नए नक्शे को अपने संविधान में शामिल करने जा रहा है। दूसरी तरफ, भारत ने साफ कर दिया है कि नेपाल का दावा ऐतिहासिक साक्ष्यों पर आधारित नहीं है।

नेपाल की तरफ से 18 राउंड फायरिंग हुई

मृतक विकेश के पिता नागेश्वर राय ने कहा, “सीमा के पास हमारा खेत है। मेरा बेटा और गांव के पांच-छह दूसरे लोग सुबह वहां काम करने गए थे। ये लोग खेत में काम कर रहे थे। इसी दौरान नेपाल आर्म्ड पुलिस के जवानों ने उन्हें काम करने से रोका और वापस जाने को कहा। नेपाली सुरक्षा बल ने 16-17 राउंड गोलियां चलाईं। मेरे बेटे के सीने में गोली मार दी।”

एक घायल नेपाल के कब्जे में

घायल उदय ठाकुर की भाभी इंद्रासन देवी ने कहा- मेरे देवर के पास किसी का फोन आया था कि बॉर्डर पर झगड़ा हो रहा है। वो वहां चला गया। नेपाली सुरक्षा बल के जवानों ने गोली चला दी। फायरिंग होते ही उदय भागा तो उसके पैर में गोली मार दी। एक आदमी की मौके पर ही मौत हो गई। एक व्यक्ति के हाथ में गोली लगी है। एक और आदमी को गोली मारने के बाद नेपाली सुरक्षा बल अपने साथ ले गए।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


भारत और नेपाल के बीच कुछ महीनों से सीमा विवाद को लेकर आरोप-प्रत्यारोप चल रहे हैं। शुक्रवार की घटना के बाद जांच करते अधिकारी।

About The Author

Originally published on www.bhaskar.com

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *