पीएमओ ने कहा- प्रधानमंत्री की बात को गलत तरीके से पेशकर बेवजह विवाद खड़ा कर रहे, उन्होंने 15 जून की झड़प की बात की थी



चीन के मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बयान पर विवाद हुआ तो प्रधानमंत्री ऑफिस (पीएमओ) ने शनिवार को सफाई जारी की। पीएमओ का कहना है कि मोदी के बयान को गलत तरीके से पेश कर बेवजह विवाद खड़ा किया जा रहा है।

प्रधानमंत्री ने क्या कहा था?
शुक्रवार को हुई सर्वदलीय बैठक मेंमोदी नेकहा था कि लद्दाख में हमारी सीमा में ना तो कोई घुसा है, ना ही हमारी पोस्ट किसी के कब्जे में है।

विपक्ष ने क्या कहा?
कांग्रेस नेता पी चिदंबरम ने पूछा- अगरप्रधानमंत्री की यहबात सच है कि भारतीय सीमा में चीन का कोई सैनिक नहीं था तो झड़प क्यों हुई, 20 जवान शहीद क्यों हो गए? दोनों देशों में बातचीत किसलिए हो रही थी?

उधर, राहुल गांधी ने भी ऐसे ही सवाल किए। उन्होंने यहां तक कहा कि प्रधानमंत्री ने चीन के अटैक के सामने सरेंडर कर दिया।

पीएमओ ने क्या सफाई दी?
प्रधानमंत्री ऑफिस ने कहा है कि सर्वदलीय बैठक में प्रधानमंत्री ने 15 जून की झड़प के रेफरेंस में बयान दिया था। उनका मतलब ये था कि हमारे जवानों की बहादुरी की वजह से उस दिन चीन का कोई सैनिक हमारी सीमा में नहीं घुस पाया। हमारे जवानों ने शहीद होकर चीनी सैनिकों की घुसपैठ को नाकाम कर दिया था।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


15 जून को गलवान घाटी में भारत-चीन के सैनिकों की झड़प के बाद भारतीय सीमा में सेना बढ़ा दी गई है। श्रीनगर-लेह हाईवे से लद्दाख बॉर्डर पर जाते भारतीय जवान।

About The Author

Originally published on www.bhaskar.com

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *