प्रधानमंत्री आईसीसी के प्रोग्राम में बांग्ला में बोले- भालो आछे ना? टैगोर और विवेकानंद का भी जिक्र किया; आखिर अगले साल वहां चुनाव जो है



बंगाल में अगले साल चुनाव है। पता अभी से चलने लगा है। ताजा मामला आज ही, यानी गुरुवार का है। इंडियन चैंबर ऑफ कॉमर्स (आईसीसी) का एनुअल प्लेनरी सेशन था। इस उद्योग संगठन का हेड ऑफिस इत्तेफाक से कोलकाता में ही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इसे ऑनलाइन संबोधित कर रहे थे। जब उन्होंने संबोधन शुरू किया तो सबसे पहले बांग्ला में बोले। भाषण के दौरान बंगाल की तारीफ की। रबींद्रनाथ टैगोर को याद किया और स्वामी विवेकानंद का जिक्र करना भी नहीं भूले।

मोदी के भाषण के बंगाल कनेक्शन से जुड़ी 5 बातें…

1. मोदी ने बांग्ला में संबोधन शुरू किया
मोदी ने कहा- नोमोस्कार! आशा करी आपनारा सबाई भालो आछे ना?
यानी
नमस्ते! आशा करता हूं कि आप सभी अच्छे होंगे।

2. बंगाल की तारीफ
मोदी ने कहा- आप सभी नॉर्थ-ईस्ट, पूर्वी भारत में इतने दशकों से काम कर रहे हैं। सरकार ने जो तमाम कदम उठाए हैं, इनका बहुत बड़ा लाभ ईस्ट और नॉर्थ-ईस्ट के लोगों को होगा। मैं समझता हूं कि कोलकाता भी फिर से एक बहुत बड़ा लीडर बन सकता है। मैन्युफैक्चरिंग में बंगाल की ऐतिहासिक श्रेष्ठता को हमें पुनर्जीवित करना होगा। हम हमेशा सुनते आए हैं ‘What Bengal thinks today, India thinks tomorrow’। इससे प्रेरणा लेते हुए हमें आगे बढ़ना होगा।

3. बंगाल के महापुरुषों का जिक्र, विवेकानंद को प्रेरणा बताया
मोदी ने कहा- ‘The simplest method to be worked upon at present is to induce Indians to use their own produce and get markets for Indian artware in other countries.’ स्वामी विवेकानंद जी का बताया ये मार्ग पोस्ट कोविड वर्ल्ड में भारत की प्रेरणा है।

4. रबीन्द्रनाथ टैगोर की कविता के जरिए पूरे देश को संदेश दिया
मोदी बोले- गुरुवर टैगौर ने अपनी कविता ‘नूतोन जुगेर भोर’ में कहा है-
‘चोलाय चोलाय बाजबे जोयेर मेरी,
पाएर बेगेई पोथ केटे जाय कोरिश ना आर देरी’
यानी
‘हर आगे बढ़ने वाले कदम पर घोषनाद होगा।
दौड़ते पांव ही नया रास्ता बना देंगे।
अब देरी मत करो।‘
5. बंगाल के जूट कारोबार का जिक्र
मोदी ने कहा- भारत में एक और अभियान चल रहा है- देश को सिंगल यूज प्लास्टिक से मुक्त करने का। इसमें पीपुल, प्लेनेट और प्रोफिट तीनों ही एड्रेस होते हैं। खासकर पश्चिम बंगाल के लिए तो ये बहुत ही फायदेमंद है। इससे आपके यहां जूट का कारोबार बढ़ने की संभावना है।

अमित शाह ने भी दो दिन पहले बंगाल के लिए वर्चुअल रैली की थी
केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने मंगलवार को पश्चिम बंगाल में वर्चुअल रैली की थी। करीब 70 मिनट के भाषण में उन्होंने कहा था कि भले ही भाजपा को देशभर में 300 से ज्यादा लोकसभा सीटें मिली हैं, लेकिन हमारे जैसे कार्यकर्ताओं के लिए बंगाल की 18 सीटें अहम हैं। हम बंगाल में सिर्फ राजनीतिक अभियान चलाने के लिए नहीं आए। हम यहां पर सोनार बंगाल बनाने के लिए आए हैं।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


Narendra Modi Address Indian Chamber of Commerce (ICC); Prime Minister Speaks Over Tagore Vivekananda

About The Author

Originally published on www.bhaskar.com

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *