migrant labourers: प्रवासी मजदूरों का रीयलिटी चेक!

migrant labourers: प्रवासी मजदूरों का रीयलिटी चेक!
migrant labourers
migrant labourers: प्रवासी मजदूरों का रीयलिटी चेक!

न्यूज विद आजाद खालिद में आपका स्वागत है। कोरोना वायरस का क़हर है देशभर में लॉकडाउन जारी है। अलीगढ़ में ट्रक द्वारा 3 और महाराष्ट्र के औरंगाबाद में रेलवे ट्रैक पर मारे गये 15 मजदूरों के परिजनों के आंसू अभी शायद थमें न हों। सरकारों के लाख दावे हों लेकिन देशभर की सड़कों पर हजारों मजदूर अपने घर जाने के लिए पैदल ही निकल पड़े हैं। हमको ख़याल आया कि हमारे आसापास से जो मजदूग भाई गुजर रहे हैं क्या उनका हम पर कोई हक़ नहीं है। अनायास हम अपराध बोध से ग्रसित हुए और लगा कि अगर कोई भूखा या थका हुआ मजदूर हमारे आसपास जीवन की जंग हार गया तो शायद हम अपने आपको कभी माफ न कर पाएं। हमारे छोटे भाई कामरान ने हमको मानों झंझोड़ दिया। हमारा बेटा हम्माद मानों हमसे नाराज दिखने लगा, हमारे पड़ोसी अरविंद और रजत ने कहा चलिए फौरन हमको उन मजदूरों की मदद करनी है। क्या कुछ हुआ ये दिखाना मक़सद नहीं है बस कोशिश है कि हर भारतवासी जाग जाए कि उसके आसपास कोई भूखा मजबूर अपने को अकेला न समझे। आप भी ये कोशिश कर सकते हैं। लेकिन कृपया अपने स्थानीय प्रशासन के निर्देशों पर ही सब कुछ करें। आइए देखते हैं न्यूज विद आजाद खालिद। #newswithazadkhalid #migrantlabourersghaziabad #migrantlabourersreality #azadkhalid #hammadkhalid #kamrankhalid #rajat #arvind #qarizubersaheb #coronavirus&lockdown #migrantlabourers_azadkhalid #migrantlabourers_lockdown

About The Author

आज़ाद ख़ालिद टीवी जर्नलिस्ट हैं, सहारा समय, इंडिया टीवी, वॉयस ऑफ इंडिया, इंडिया न्यूज़ सहित कई नेश्नल न्यूज़ चैनलों में महत्वपूर्ण पदों पर कार्य कर चुके हैं। Read more

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *