योगी ने अफसरों से कहा- दिल्ली के मरकज में शामिल हुए जमातियों को खोजें और उन्हें क्वारैंटाइन करें



लखनऊ. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को कहा कि दिल्ली स्थित निजामुद्दीन मस्जिद में मरकज के कार्यक्रम में शामिल हुए जमातियों को उत्तर प्रदेश में खोजने का आदेश दिया। उन्होंने अफसरों से कहा कि इन्हें खोजकर क्वारैंटाइन किया जाए। राज्य सरकार का कहना है कि इस धार्मिक कार्यक्रम में राज्य से 157 लोग शामिल हुए थे। इसके लिए 19 जिलों को एलर्ट किया गया है।

योगी मंगलवार को आगरा और मेरठ का दौरा रद्द कर गाजियाबाद से लखनऊ लौटना पड़ा। उन्होंने कोरोनावायरस से निपटने के लिए बनी 11 समितियों और शासन के बड़े अफसरों के साथ बैठक की। उधर, लॉकडाउन का राज्य में आज सातवां दिन है। ज्यादातर लोग घरों में कैद होकर नियमोंका पालन कर रहे हैं। पुलिस महानिदेशक (डीजीपी)हितेश चंद्र अवस्थी की ओर से जारी पत्र के अनुसार, लखनऊ, गाजियाबाद, मेरठ, सहारनपुर, मुजफ्फरनगर, शामली, हापुड़, बिजनौर, बागपत, वाराणसी, भदोही, मथुरा, आगरा, सीतापुर, बाराबंकी, प्रयागराज, बहराइच, गोंडा और बलरामपुर के लोगतब्लीगी जमात में शामिल होने गए थे। इसमें शामिल लोगों की लिस्ट इन जिले के पुलिस अधीक्षकों को भेजी गई है। डीजीपी ने सभी एसपी ने मंगलवार दोपहर 3 बजे तक रिपोर्ट तलब की है।

लखनऊ: गैर राज्यों से आए लोगों को क्वारैंटाइन किया गया
जिला प्रशासन ने बाहर से आए लोगों को इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान, हज हाउस औरअवध शिल्प ग्राम में क्वारैंटाइन किया है। प्रमुख सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन ने तीनों जगहों पर 24 घंटे स्वास्थ्य विभाग की टीम तैनात की है। राजधानी में कोरोना से संक्रमित पहली महिला ठीक हो चुकी है।लेकिन, सोमवार को उसकी 73 वर्षीय सास में संक्रमण की पुष्टि हुई।

मुख्यमंत्री योगी ने सोमवार को नोएडा की स्थिति का जायजा लिया।

योगी आज तीनसीएम तीन जिलों कानिरीक्षण करेंगे
नोएडा में व्यवस्थाओं से नाराज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने स्वास्थ्य विभाग कोगौतमबुद्धनगर के अलावा मेरठ,गाजियाबाद के लिए अलग कमेटी बनाकर काम करने का निर्देश दिए हैं। इन जिलों के डीएम से क्वारैंटाइन में रह रहे लोगों की सूची मांगी गई है। अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया किमंगलवार को सीएम गाजियाबाद, मेरठ औरआगरा का निरीक्षण करेंगे।

कानपुर में फतेहपुर बॉर्डर पर फंसे वाहन।

कानपुर: सीमा सील हुई तो फंसे हजारों वाहन
दूसरे राज्यों से पलायन कर आने वालों को रोकने के लिएशहर की सीमाओं को सील कर दिया है। जिसकी वजह से हजारों वाहन हाइवे पर फंसे हैं। इसमें कुछ जरूरी खाद्य सामग्री लेकर जा रहे वाहन फंस गए हैं। कानपुर-प्रयागराज हाइवे पर जनपद फतेहपुर सीमा पर यात्रियों ने जमकर हंमागा भी किया। सूचना पर पहुंचे डीएम और एसएसपी ने हंगामा कर रहे लोगों को शांत कराया। फतेहपुर डीएम और एसपी से बात कर यात्रियों की बसों को रवाना कराया और जरूरी खाद्य सामाग्री वाले वाहनों को पास कराया।

झांसी में ट्रकों से रवाना हुए लोग।

झांसी:सीमाएं सील, लॉकडाउन बेअसर

लॉकडाउन के बीच पलायन बढ़ने के कारण प्रदेश की सीमाओं को सील कर दिया गया है। इसके बावजूद झांसी में तमाम लोग रोड पर चलते देखे जारहे हैं। सोमवार को दिनभर में करीब एक लाख लोग शहर से गुजरे।

आगरा: एक मरीज ठीक हुई, पत्नी का एप्रिन पहनकर घूमने वाला गिरफ्तार

लॉकडाउन को कुछ लोगों ने मजाक बना लिया है। आगरा में भी कुछ ऐसा ही मामला सामने आया है। यहां पुलिस नेएप्रिन पहनकरघूमने वालेएक व्यक्ति को पकड़ा।दरअसल, उसकी पत्नी नर्स है।उसने पुलिस को खुद को डॉक्टर बताया।पुलिस ने पति-पत्नी दोनों पर केस दर्ज कर लिया। वहीं, कोरोना संक्रमित रेलवे अधिकारी की बेटी इलाज के बाद घर लौट आई। आगरा में अब तक कोरोना के 11 केस मिल चुके हैं। इनमें से 8 मरीज ठीक हो चुके हैं।

पत्नी का एप्रिन पहनकर घूमने वाले व्यक्ति (बाएं) को पुलिस ने पकड़ा।

गोरखपुर: थर्मल स्कैनिंग के बाद लोग हुए रवाना
गैर राज्यों से पलायन कर रोज कमाने खाने वाले लोग पैदल हीसफर तय कर रहे हैं। सोमवार रात मजदूरों का एक जत्था गोरखपुर पहुंचा। नौसड़ चौराहे पर एसडीएम सदर गौरव सिंह सोगरवाल औरसीओ कैंपियरगंज दिनेश कुमार सिंह ने सभी की थर्मल स्कैनिंग कराई और बस की व्यवस्था कर उन्हें रवाना किया। एसडीएम ने कहा- जो लोग बाहर से आ रहे हैं, उन्हें 14 दिनों के लिए क्वारैंटाइन किया जा रहा है।

गोरखपुर में बाहर से आए लोगों को प्रशासन ने गंतव्य तक भिजवाने की व्यवस्था की।

मेरठ:लगातार बढ़ रही रोगियों की संख्या
जिले में सोमवार को 6और लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई। अब तक यहां 19 लोग संक्रमित पाए जा चुके हैं। सीएमओ डाॅ. राजकुमार ने बताया कि इनमें से 4 मरीज महाराष्ट्र के अमरावती से लौटे खुर्जा निवासी कोरोना पॉजिटिव के रिश्तेदार हैं। जबकि2मरीज शहर के सिविल लाइंस क्षेत्र के हैं,ये दोनों मरीज विदेश से आए थे। स्वास्थ्य विभाग इनकी निगरानी कर रहा था। जो पॉजिटिव आए हैं उन्हेंमेडिकल अस्पताल और सुभारती अस्पताल में कोरोना आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया।

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ बैठक में सोशल डिस्टेंसिंग का भी ध्यान रखते हैं।

योगी का अफसरों को निर्देश; जमातियों को खोजिए, जो जहां मिले उसे वहीं क्वारैंटाइन किया जाए
लखनऊ. मंगलवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को आगरा व मेरठ का दौरा रद्द कर गाजियाबाद से लखनऊ लौटना पड़ा। उन्होंने कोरोनावायरस से निपटने के लिए बनी 11 समितियों व शासन के बड़े अफसरों के साथ बैठक की। मुख्यमंत्री ने कहा- जमात में शिकरत करने वालों को खोजा जाए और जो जहां मिलें, वहीं तत्काल क्वारैंटाइन किया जाए। निजामद्दीन मरकज में हुए तब्लीगी जमात में उत्तर प्रदेश के 157 लोग शामिल हुए थे। इसके लिए 19 जिलों को एलर्ट किया गया है। लखनऊ में छह, बिजनौर में आठ, मथुरा में 21 लोगों को क्वारैंटाइन किया गया है।लॉकडाउन के बीच सोमवार को तेलंगाना से आई छह कोविड-19 संक्रमितों की मौत ने दिल्ली के साथ उत्तर प्रदेश में हड़कंप मचा दिया है। ये सभी मृतक दिल्ली के निजामुद्दीन इलाके में हुई तब्लीगी जमात में शामिल हुए थे।

लखनऊ में मिले 6 विदेशी नागरिक।

लखनऊ व बिजनौर में मिले 14 विदेशी नागरिक
लखनऊ/बिजनौर. दिल्ली के निजामुद्दीन इलाके में मौजूद तब्लीगी जमात मामले के खुलासे के बाद मंगलवार को प्रदेश के 19 जिलों में पुलिस एक्शन में है। सुबह राजधानी लखनऊ के अमीनाबाद स्थित एक मरकजी मस्जिद में छह विदेशी नागरिक मिले हैं, जो किर्गिस्तान व कजाकिस्तान के रहने वाले हैं। पता चला है कि, ये सभी एक धार्मिक जलसे में शामिल होने आए थे। लेकिन लॉकडाउन होने के बाद से मस्जिद में ही शरण ले रखी थी। वहीं, बिजनौर में भी प्रशासन ने छापा मारकर नगीना की जामुन वाली मस्जिद से 8 धर्म प्रचारकों को पकड़ा है। ये इंडोनेशिया से आए थे।

सीतापुर में लापरवाही के चलते क्वारैंटाइन सेंटर से फरार हुए 14 लोग
सीतापुर. जिले में स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही के चलते क्वारैंटाइन सेंटर से पलायन करके आए 14 लोगों के फरार होने का मामला सामने आया है। सेंटर में रुके लोगों ने स्वास्थ्य विभाग पर लापरवाही का गंभीर आरोप लगाया है। इस बीच बाहर से आए लोगों के फरार होने की खबर के बाद स्वास्थ्य महकमे में अफरा तफरी मची हुई है। स्वास्थ्य विभाग के जिम्मेदार अधिकारियों का कहना है कि वह सभी अपने अपने घरों में चले गए हैं जल्द ही उन्हें वापस बुलाकर क्वारैंटीन सेंटर में रखा जाएगा और उनकी जांच हो चुकी हैं अभी तक किसी प्रकार के लक्षण नहीं प्राप्त हुए हैं।

आगरा में मुंडन कराने वाला व्यक्ति लोगों को जागरूक भी कर रहा है।

आगरा: शैंपू खत्म हुआ तो पिता ने 3 बच्चों का कर दिया मुंडन
आगरा. ताजनगरी में लॉकडाउन का सख्ती से पालन कर रहे एक व्यक्ति ने अपने तीन बच्चों का खुद मुंडन कर दिया। कारण घर में शैंपू खत्म हो गया था। बच्चे शैंपू लाने की जिद कर रहे थे। घर से बाहर न निकलना पड़े, इसलिए युवक ने ऐसा कदम उठाया। वहीं, थाना एमएम गेट क्षेत्र में नर्स पत्नी का एप्रिन पहनकर घूमने निकले शख्स को पुलिस ने पकड़ा तो वह रौब गांठने लगा। पुलिस ने पति-पत्नी दोनों पर केस दर्ज किया है।

वाराणसी के गली- मोहल्लों में निकलने वाली भीड़ की ड्रोन कैमरे से निगरानी
वाराणसी. कोरोनावायरस का प्रभाव तेजी से फैलता जा रहा है। इसको लेकर जिला प्रशासन पूरी तरह से अलर्ट है। एक तरफ जहां मुनाफाखोरों के खिलाफ प्रशासन अभियान चला रहा है वहीं ड्रोन कैमरे की नजर से पूरे जिले में लॉकडाउन की स्थिति का जायजा भी लिया जा रहा है। अधिकारियों का कहना है कि लॉकडाउन के दौरान अक्सर देखा जा रहा है कि गली मोहल्लों में लोगो की भीड़ इकट्ठी हो रही है। पुलिस ऐसे लोगों की पहचान और कार्यवाही करने के लिए बजरडीहा समेत कई इलाकों में ड्रोन कैमरे से निगरानी करने लगी है।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


Varanasi Lucknow Coronavirus Lockdown Live | Read Corona Virus Lockdown Day 7 {Curfew} In Uttar Pradesh Lucknow Kanpur Agra Gorakhpur Ghaziabad (COVID-19) Cases News and Updates


रविवार रात सरधना की दो मस्जिदों में इंडोनेशिया, सूडान आदि देशों के 19 जमाती छिपकर शरण लिए हुए थे।

About The Author

आज़ाद ख़ालिद टीवी जर्नलिस्ट हैं, सहारा समय, इंडिया टीवी, वॉयस ऑफ इंडिया, इंडिया न्यूज़ सहित कई नेश्नल न्यूज़ चैनलों में महत्वपूर्ण पदों पर कार्य कर चुके हैं। Read more

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *