22 जमातियों के सम्पर्क में आए 1 हजार संदिग्ध लोगों की तलाश में एलआईयू और पुलिस, कैंट इलाका सबसे संवेदनशील



कोरानावायरस को लेकर सरकार हर संभव कदम उठा रही है। उप्र में संक्रमित मरीजों का आंकड़ा 400 को पार कर गया है। इस बीच स्वास्थ्य विभाग ने जो जानकारियां जुटाई हैं, उनके मुताबिक कोरोना से संक्रमित जमाती लॉकडाउन के बाद भी लोगों से लगातार मिल रहे थे। अफसरों की माने तो एक संक्रमित जमाती लगभग 50 लोगों के सम्पर्क में रहा और कई घंटे उनके बीच बिताए हैं।

अधिकारियों की मानें तो अब तक की पड़ताल के हिसाब से कैंट इलाके में एक हजार से अधिक कोरोना संदिग्ध लोग मौजूद हैं और सारे हॉट-स्पॉट वाले इलाकों को मिलाकर देखें तो यह संख्या बहुत बड़ी है। इन स्पॉट पर एलआईयू और पुलिस संदिग्धों की तलाश में लगी है।

कैंट इलाका सबसे संवेदनशील:
कैंट में ही सबसे अधिक 22 जमाती मिले हैं इसलिए यह इलाका सबसे अधिक संवेदनशील है। इनके सीधे सम्पर्क में आए एक हजार से अधिक लोग संदिग्ध हैं। इनकी सूची स्वास्थ्य विभाग व जिला प्रशासन स्तर तक तैयार होकर पहुंच चुकी है। इन्हें तलाश कर क्वारंटीन किया जा रहा है।

लोग खुद सामने आएं तो बेहतर:
स्वास्थ्य विभाग और प्रशासन का कहना है कि जो लोग जमातियों के सम्पर्क में आए हैं, वे खुद ही सामने आकर जांच करवा लें तो उनके स्वास्थ्य के लिए अच्छा है और आमजन को भी जल्दी राहत मिल सकती है। फिलहाल इनकी तलाश के लिए टीम घर-घर पहुंच ब्योरा जुटा रही है।

सीएमओ डॉ नरेंद्र अग्रवाल ने बताया कि हर जमाती के सम्पर्क में आए लोगों का आंकड़ा तेजी से जुटाने में स्वास्थ्य टीम लगी है। पड़ताल में हर चिह्नित व्यक्ति को तुरंत क्वारैंटाइन किया जा रहा है। उनके नमूने जांच के लिए भेजे जा रहे हैं।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


अधिकारियों का कहना है कि हर जमाती के सम्पर्क में आए लोगों का आंकड़ा तेजी से जुटाने में स्वास्थ्य टीम लगी है। पड़ताल में हर चिह्नित व्यक्ति को तुरंत क्वारैंटाइन किया जा रहा है। उनके नमूने जांच के लिए भेजे जा रहे हैं।

About The Author

आज़ाद ख़ालिद टीवी जर्नलिस्ट हैं, सहारा समय, इंडिया टीवी, वॉयस ऑफ इंडिया, इंडिया न्यूज़ सहित कई नेश्नल न्यूज़ चैनलों में महत्वपूर्ण पदों पर कार्य कर चुके हैं। Read more

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *