दिल्ली में बाहरी मरीजों का इलाज रोकने की ख़बर पर प्रशासन मुस्तैद

delhi hospitals not for out siders: दिल्ली में बाहरी मरीजों का इलाज रोकने की ख़बर पर प्रशासन मुस्तैद
medical facilities

स्वास्थ्य विभाग ने की चार हजार बेड की व्यवस्था
गाजियाबाद (8 जून 2020) – हांलाकि दिल्ली के एलजी ने सीएम अरविंद केजरीवाल के फैसले को पलटकर आम जनमानस को राहत दी है। लेकिन अरविंद केजरीवाल के बाहरी मरीजों को इलाज से वंचित रखने के फैसले के बाद गाजियाबाद प्रशासन ने अपनी तैयारियां मुकम्मल करने का दावा किया है।
दिल्ली सरकार और सीएम अरविंद केजरीवाल की ओर से दिल्ली के बाहर के लोगों को उपचार न देने की घोषणा के साथ ही गाजियाबाद स्वास्थ्य विभाग ने कमर कस ली है। जनपद में चार हजार बेड एल-1 कोविड केयर में तैयार किए जा रहे हैं। दो हजार बेड के आधा दर्जन अस्पताल जनपद में पहले ही तैयार किए जा चुके हैं। इन्हें आवश्यकतानुसार क्रियाशील कर लिया जाएगा।मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. एनके गुप्ता ने सोमवार को कहा घबराने की कतई जरूरत नहीं है, सावधानी बरतें और जब तक आवश्यक न हो, घर से बाहर निकलने से परहेज करें। उन्होंने बताया कि इंद्रप्रस्थ डेंटल कॉलेज साहिबाबाद, आईटीएस डेंटल मोहन नगर और एमएमएच डिग्री कॉलेज में भी कोविड केयर हॉस्पिटल बनाने की तैयारी तेज कर दी गई है। इन सभी जगहों पर संक्रमित मरीजों को निशुल्क उपचार उपलब्ध कराया जाएगा।
सीएमओ डा. गुप्ता ने बताया आईडीएसटी डेंटल कॉजेज कादराबाद में 100 बेड, आईएमएस इंस्टीट्यूट में 450 बेड, एकेजीआईटी में 400 बेड, आईडियल इंस्टीट्यूट में 350 बेड, एसआरएम यूनिवर्सिटी मोदीनगर में 450 बेड, सुंदरदीप आयुर्वेदिक हॉस्पिटल में 200 बेड के एल-1 अस्पतालों की व्यवस्था हो चुकी है। इन संभी संस्थानों में एक्टिव क्वेरेंटाइन के लिए भी जगह चिन्हित कर ली गई है मेडिकल स्टाफ के लिए पैसिव क्वेरेंटाइन की व्यवस्था की जा रही है। सभी संस्थानों में स्वास्थ्य अधिकारियों, स्टाफ और लैब टेक्नीशियनों के लिए अलग कमरों की व्यवस्था है।
सीएमओ ने बताया दो हजार बेड्स की व्यवस्था पूरी करने के बाद दो हजार बेड्स के लिए कुछ और संस्थान चिन्हित किए जा रहे हैं। इन संस्थानों में इंद्रप्रस्थ कॉलेज साहिबाबाद, आईटीएस डेंटल कॉलेज और एमएमएच डिग्री कॉलेज शामिल हैं। सीएमओ ने कहा एल-1 कोविड केयर अस्पतालों को आवश्यकतानुसार क्रियाशील कर लिया जाएगा।
सीएमओ डा. गुप्ता ने बताया वसुंसधरा सेक्टर-4 में नया बना ली क्रेस्ट हॉस्पिटल एल-3 पेड हॉस्पिटल बनाया जा रहा है।इसके अलावा सेंट जोसफ हॉस्पिटल नंदग्राम में निशुल्क सुविधा के साथ-साथ पेड फैसिलिटी भी मिल सकेगी। कुछ और निजी अस्पतालों में भी इस प्रकार की व्यवस्था की जा रही है। ली क्रेस्ट हॉस्पिटल के सीईओ और आईएमए गाजियाबाद के पूर्व अध्यक्ष डा. शरद अग्रवाल ने बताया पेड एल-3 हॉस्पिटल में ढाई सौ बेड की व्यवस्था है। इनमें से 50 बेड क्रिटिकल केयर वाले हैं। अस्पताल में आठ ऑपरेशन थियेटरों के साथ तमाम अत्याधुनिक सुविधाएं उपलब्ध हैं।
सीएमओ ने बताया ईएसआई अस्पताल में जगह उपलब्ध न होने के कारण अब नंदग्राम के मरियम नगर स्थित सेंट जोसफ हॉस्टिपल में स्वास्थ्य विभाग ने एल-1 अस्पताल क्रियाशील कर दिया है। इस हॉस्पिटल में कुल 70 बेड उपलब्ध हैं। फिलहाल अस्पताल में कुल नौ मरीज भर्ती कराए गए हैं।

About The Author

आज़ाद ख़ालिद टीवी जर्नलिस्ट हैं, सहारा समय, इंडिया टीवी, वॉयस ऑफ इंडिया, इंडिया न्यूज़ सहित कई नेश्नल न्यूज़ चैनलों में महत्वपूर्ण पदों पर कार्य कर चुके हैं। Read more

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *