संक्रमण से बचने के लिए युवक ने पेड़ पर बनाया आशियाना; कहा- डॉक्टरों की सलाह पर एकांत का आंनद ले रहा हूं



कोरोनावायरस के संक्रमण के कारण पूरेदेश में लॉकडाउन है। कुछ ऐसेलोग हैं जो लॉकडाउन को गंभीरता से नहीं ले रहे हैं, तो हापुड़ के एक वकील अलग तरीके से इसका आनंद ले रहे हैं। हापुड़ के वकील मुकुल त्यागी ने कोरोना संक्रमण से बचने के लिए जंगल मे जाकर अपना आशियाना बनाया है। मुकुल त्यागी और उनका बेटा कोरोना के संक्रमण से बचने के लिए पेड़ पर ट्री हाउस बनाकर रह रहे हैं।

असौढ़ा के रहने वाले मुकुल त्यागी हापुड में जिला बार के वकील है और इन दिनों कोरोना वायरस के कारण कोर्ट कचहरी भी बंद चल रही है। जिस कारण मुकुल भी अपने घर पर ही थे। लेकिन घर पर उनका मन नही लग रहा था तो वो  पास के ही जंगल ने चले गए।
असौढ़ाके रहने वाले मुकुल त्यागी हापुड में वकील हैं। लॉकडाउन के कारण कोर्ट भी बंद है। घर पर उनका मन नहीं लग रहा था तो वो पास के जंगल में चले गए।

सीढ़ी के जरिए चढ़ते हैं पेड़ पर

मुकुल त्यागी ने बताया- मुझे यहां पर किसी तरह की कोई परेशानी नहीं है। यहां तो मैं खुद को प्रकृति के बेहद करीब पाता हूं। मैंने पेड़ पर बने आशियाने तक पहुंचने के लिए सीढ़ी रखी है, जिसके जरिए मैं आसानी से पेड़ पर बने आशियाने तक पहुंच जाता हूं और आराम से रहता हूं। दो दिन तक मेहनत की और एक पेड़ पर लकड़ियों की सहायता से ट्री हाउस बना लिया। उसी में वह रहते हैं। वहीं खाना खाते हैं औरधार्मिक पुस्तकेंपढ़ते हैं।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


पेड़ पर आशियाना बनाने वाले मुकुल त्यागी का कहना है कि डॉक्टरों ने कहा है कि सामाजिक दूरी ही इस महामारी को रोकने का एकमात्र तरीका है, इसीलिए मैंने एकांत में रहने का मन बनाया है और मैं इसका आनंद ले रहा हूं।

About The Author

आज़ाद ख़ालिद टीवी जर्नलिस्ट हैं, सहारा समय, इंडिया टीवी, वॉयस ऑफ इंडिया, इंडिया न्यूज़ सहित कई नेश्नल न्यूज़ चैनलों में महत्वपूर्ण पदों पर कार्य कर चुके हैं। Read more

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *