अवैध चल रहे कोचिंग सेंटर में आग लगने से 20 बच्चों की मौत, 20 घायल

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के गृह राज्य गुजरात की आर्थिक राजधानी सूरत के सरथाना क्षेत्र के तक्षशिला कॉम्पलेक्स में शुक्रवार को शॉट सर्किट लगने से पूरे कॉम्पलेक्स में आग लग गई जिसमें एक महिला समेत 20 बच्चों की जान चली गई। मरने वालों में 18 लड़कियां और 3 लड़के शामिल हैं। सभी की उम्र 15 से 22 साल के बीच थी। 11 बच्चे गंभीर रूप से घायल हैं। घटना के समय आर्ट्स कोचिंग में 40 से 45 बच्चे थे।

बता दें कि जिस बिल्डिंग के फ्लोर पर आग लगी थी वो गैर कानूनी तरीके से बनाया गया था। इस मामले में 3 लोग के खिलाफ केस दर्ज कर किया गया है। ईपीसी की धारा 304-बी के तहत मामला दर्ज किया गया है. मामले की जांच सूरत क्राइम ब्रांच के एसीपी को सौंपी गई है, जिसमें 1 व्यक्ति को पुलिस ने हिरासत में लिया है।

इस मामले में सूरत के पुलिस के कमिश्नर सतीश शर्मा ने कहा कि हादसे में 20 छात्रों की जान गई है. इतने ही लोग जख्मी भी हुए हैं। अग्निकांड में तीन लोगों के खिलाफ एफआईआर भी दर्ज कर ली गई है। फिलहाल कोचिंग सेंटर के संचालक समेत 2 को हिरासत में लिया गया है। इस घटना के बाद प्रशासन ने सूरत में इस तरह के ट्यूशन क्लास पर प्रतिबंध लगा दिया है। फायर डिपार्टमेंट की एनओसी मिलने के बाद ही ट्यूशन क्लास चलेंगी।

प्रधानमंत्री मोदी समेत इन नेताओं ने हादसे पर जताया दुख़

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस हादसे पर गहरा दुख जताया है और साथ ही साथ केंद्र की तरफ से राज्य सरकार को हर संभव मदद करने की बात कही है। प्रधानमंत्री मोदी के अलावा कांग्रेस अध्यक्ष राहुल और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने भी इस घटना पर दुख जताया है।

4 लाख रुपये मुआवजा देने का ऐलान

गुजरात के सीएम विजय रुपाणी ने इस घटना की जांच के आदेश दे दिए हैं। देर शाम सीएम ने अस्पताल जाकर घायलों से मुलाकात की। इसके बाद उन्होंने कहा,सीढ़ियों के पास लगी आग के कारण कई लोग बिल्डिंग की चौथी मंजिल से कूद गए। सीएम ने मरने वालों के परिवारवालों को 4 लाख रुपये मुआवजा देने का ऐलान किया है।

About The Author

Originally published on www.bhaskar.com

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *