मंहगाई को लेकर केजरीवाल के खिलाफ थाली पीटेगी कांग्रेस:शर्मिष्ठा मुखर्जी

SHARMISHTA MUKHARJI CONGRESS WOMEN CELL
नई दिल्ली(26अगस्त2015)- मंहगाई और महिला सशक्तिकरण को लेकर कांग्रेस ने दिल्ली सरकार को घेरने का मन बना लिया है। कांग्रेस का कहना है कि केजरीवाल सरकार की नाकामी को जनता के बीच बेनक़ाब करने के लिए 30 अगस्त को थाली पीट प्रदर्शन का आयोजन किया जाएगा। दिल्ली कांग्रेस की प्रवक्ता शर्मिष्ठा मुखर्जी ने एक पत्रकार सम्मेलन में बताया कि कांग्रेस ने केजरीवाल सरकार की नाकामियों को लेकर सीएम के घर पर किये जाने वाले प्रदर्शन की रणनीति तैयार कर ली है।
शर्मिष्ठा मुखर्जी ने कहा कि दिल्ली में प्याज व खाने की वस्तुओं के दामों में बढ़ोत्तरी और महिला सशक्तिकरण के मुद्दे पर केजरीवाल सरकार पूरी तरह नाकाम हो चुकी है। शर्मिष्ठा मुखर्जी ने संवाददाताओं को सम्बोधित करते हुए कहा कि दिल्ली में आज खाद्यान वस्तुओं के दाम आसमान छू रहे हैं और मुख्यतः प्याज व दालों के दामों में बेहताशा वृद्धि हुई है। प्याज के दाम तो पिछले दो साल के दामों की तुलना में सबसे ज्यादा ऊॅचे पहुंच गए हैं। मुखर्जी ने कहा कि एक तथा डेढ़ साल पहले केन्द्र में बैठी भाजपा ने लोकसभा चुनाव में व दिल्ली की आम आदमी पार्टी ने विधानसभा चुनावों में मंहगाई को मुख्य मुद्दा बनाया था, लेकिन दोनो ही सरकारें अब मंहगाई को कम करने में विफल रही हैं। मुखर्जी ने दिल्ली की केजरीवाल सरकार व केन्द्र की मोदी सरकार से यह प्रश्न पूछा कि वे बतायें कि इस मंहगाई के मुद्दे को लेकर उन्होंने क्या तैयारियां की हैं और कितने जमाखोरों के खिलाफ कार्यवाही की है। गौरतलब है कि जनवरी 2011 में जब प्याज के दाम भी बेहताशा बढ़ गए थे उस समय यू.पी.ए. सरकार के वित्तमंत्री के आदेश पर जमाखोरों के खिलाफ रातों रात कार्यवाही की थी, जिसका परिणाम यह निकला कि बहुत जल्द प्याज के दामों में 60 प्रतिशत की कमी हो गई थी। शर्मिष्ठा मुखर्जी ने कहा कि दिल्ली में प्याज व दालों के दामों में वृद्धि के लिए जमाखोरी के अलावा और भी कारण है जैसे दिल्ली में पूर्ण कुप्रबंधन, प्लानिंग की कमी व केजरीवाल की जिद, दिल्ली में पेट्रोलियम प्रोडक्ट में वेट की बढ़ौतरी तथा दिल्ली में एन्टरी टैक्स की बढ़ौतरी मुख्य हैं। श्रीमती मुखर्जी ने कहा कि केजरीवाल सरकार ने नेफेड से सस्ते दामों में प्याज खरीदने से मना कर दिया था जबकि नेफेड ने दिल्ली सरकार को मात्र 19 से 20 रुपये प्रति किलो के हिसाब से प्याज देने के लिए हां भरी थी।
शर्मिष्ठा मुखर्जी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा लिखे गए खुले पत्र के बारे में बोलते हुए कहा कि प्रधानमंत्री ने सभी भाईयों से यह अपील की है कि वे रक्षा बंधन के उपलक्ष में प्रधानमंत्री बीमा योजना की स्कीम अपनी-अपनी बहनों को दें। यह पत्र प्रधानमंत्री की रुढि़वादी सोच को उजागर करता है। शर्मिष्ठा मुखर्जी ने कहा कि मोदी जी आज भी देश की नारी को आश्रित रखना चाहते हैं और वे नहीं चाहते कि बहने आत्मनिर्भर हों। शर्मिष्ठा मुखर्जी ने कहा कि आज की नारी को अधिकार चाहिए, सौगात नहीं। कांग्रेस कार्यालय सचिव प्रमोद कुमार द्वारा जारी प्रेस रिलीज़ के मुताबिक़ दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में छाया समिति की सदस्य व निगम पार्षद प्रेरणा सिंह भी मौजूद थीं।

About The Author

आज़ाद ख़ालिद टीवी जर्नलिस्ट हैं, सहारा समय, इंडिया टीवी, वॉयस ऑफ इंडिया, इंडिया न्यूज़ सहित कई नेश्नल न्यूज़ चैनलों में महत्वपूर्ण पदों पर कार्य कर चुके हैं। Read more

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *